Mein Digital Marketing Kaise Padhun? – Part 1

अगर आपने ये प्रश्न “Digital Marketing Kaise Padhun?” गूगल पर सर्च किया है तो इसका मतलब आपने डिजिटल मार्केटिंग पढ़ने का मन बना लिया है और आप अब डिजिटल मार्केटिंग पढ़ना चाहते हैं पर सवाल ये है की आप डिजिटल मार्केटिंग पढ़ें कैसे ?

सबसे पहले आप को यह समझना होगा की डिजिटल मार्केटिंग सीखने के लिए आपको ट्रेनिंग की नहीं प्रैक्टिस की जरुरत है और उस प्रैक्टिस के लिए आपको कुछ चीज़ें चाहिए होती हैं जिस पर आप प्रैक्टिस करते हैं ।

जैसे आपको स्कूटर सीखने के लिए स्कूटर और साइकिल सीखने के लिए साइकिल की जरुरत होती है, इसके लिए आपके घर में ही उधारण मिल जायेंगे, जैसे आप अपने घर में उस आदमी को पकड़िए जिसे टचस्क्रीन मोबाइल चलाना नहीं आता है और उसे आप एक स्मार्टफोन पकड़ा दीजिये और बोलिये की 15-20 दिन अपने पास रखो और उसे यूज़ करो तो वो आपको 20 दिन बाद सेल्फी लेकर फेसबुक और व्हाट्सप्प पर शेयर करता मिलेगा 🙂

इसी तरह से आपको डिजिटल मार्केटिंग / ऑनलाइन मार्केटिंग में करियर स्टार्ट करने के लिए सबसे पहले एक वेबसाइट की जरुरत होती है और फिर आपका डिजिटल मार्केटिंग का सफर शुरू होता है ।

अब इसके लिए आपके पास सबसे अच्छा उधारण है की जब आप कोई मोबाइल लेते हैं तो पहले पूरा रिसर्च करते हैं की कौनसा मोबाइल अच्छा होगा और उसके क्या फीचर्स होंगे और उससे आपको कितने पैसे बचेंगे या कितने पैसे ज्यादा देने पड़ेंगे ।

इसी तरह आपको एक वेबसाइट बनाने से पहले, आपको रिसर्च करनी पड़ती है की आप कौनसा डोमेन ले और उस वेबसाइट को कहाँ होस्ट करेंगे ।

इसके लिए आपको ये भी सोचना होगा की आपकी वेबसाइट किस टॉपिक से रिलेटेड होगी और आपका डोमेन आपके वेबसाइट या ब्लॉग के बिज़नेस को शो करता है या नहीं ।

तो इसके लिए आप रिसर्च करना आज से ही शुरू कर दीजिये की आपका इंटरेस्ट किस चीज़ में है और आप किस टॉपिक के बारे में लिखना और पढ़ना पसंद करते हैं । जैसे मेरा इंटरेस्ट डिजिटल मार्केटिंग में है तो मेरे सभी ब्लोग्स डिजिटल मार्केटिंग पर होते हैं और में इसी के बारे में पढता हूँ और इसी के बारे में लिखता हूँ ।

जब आप ये डीडे करले की आपका इंटरेस्टेड टॉपिक क्या है या बिज़नेस क्या होगा तो फिर आप Godady या Bigrock पर जाकर अपने लिए डोमेन सर्च करें और कोशिश करें की आपका वेबसाइट डोमेन आपके ब्लॉग या बिज़नेस से रिलेवेंट हो या फिर ऐसा डोमेन हो जिसे याद करना आसान हो ।

मैं आपको यहां पर ये सलाह देना चाहूंगा की आप डोमेन सर्च करते हुए कोशिश करें की आपका डोमेन 7 वर्ड्स के अंदर हो और आकर्षक हो जिसे आपकी ऑडियंस आसानी से याद रख सके ।

डोमेन लेते हुए आपको ये भी सोचना होगा की आप .com ले या .in या फिर .co.in , यहां पर आपको ये समझने की जरुरत है की कौनसा एक्सटेंशन आपके लिए सही है । अगर आपकी टार्गेटेड ऑडियंस India है तो .in ले और अगर आपकी टारगेट ऑडियंस पाकिस्तान है तो .in ले , या अगर आपकी टारगेट ऑडिएंस UK है तो .co.uk लें इसके लिए आपको अच्छे से रिसर्च करनी होगी और फिर अपना डोमेन फाइनल करना होगा ।

अगर आप बिलकुल नई हैं और आपने कभी डोमेन परचेस नहीं किया तो बिलकुल घबराने की जरुरत नहीं हैं क्यूंकि इस सीरीज “Digital Marketing Kaise Padhun?” के part 2 में हम सीखेंगे की डोमेन कैसे लिया जाता है और उस डोमेन को होस्ट कैसे किया जाता है ।

अभी आपको एक होम वर्क करना है , ताकि जब आप अगला ब्लॉग पढ़ें तो आपको आज वाली चीज़े क्लियर हों .. इसके लिए आपको डोमेन लेने के लिए अपना “Niche” सेलेक्ट करना है – मतलब आपकी वेबसाइट किस टॉपिक से रिलेटेड होगी और आप उसपर ब्लॉग्गिंग करना कहते हैं या बिज़नेस वेबसाइट बनाना कहते हैं ।

Conclusion:

 

डिजिटल मार्केटिंग पढ़ने के लिए किसी ट्रेनिंग कोर्स को ज्वाइन न करें और उस पैसे का इस्तेमाल अपने डिजिटल मार्केटिंग टूल्स के लिए करें क्यूंकि कोई भी ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट आपको प्रैक्टिकल नॉलेज नहीं देता है और आपको थ्योरी पढ़ा के छोड़ देता है , ऐसी हज़ारों थ्योरी आपको यूट्यूब और इंटरनेट पर मिल जाएगी इसके लिए आपको 20,000 से 50,000 खर्च करने की जरुरत नहीं है ।

उम्मीद करता हूँ आपको यह “Digital Marketing Kaise Padhun? – Part 1” पसंद आया होगा और अब आप “Part2” पढ़ने के लिए उत्साहित होंगे । All the best

Leave a Reply